10 january 2019, mphalchal news

-  ग्वालियर |  जिले में किसानों को उच्च गुणवत्तायुक्त एवं मानक खाद-बीज मुहैया कराने के मकसद से कलेक्टर श्री भरत यादव के निर्देश पर खाद-बीज की दुकानों से सेम्पल लेकर उनकी प्रयोगशाला में जाँच कराई जा रही है। इस कड़ी में एक संस्था से लिए गए डीएपी खाद का नमूना प्रयोगशाला में कराई गई जाँच में अमानक पाए जाने पर इस उर्वरक के लॉट/बैंच स्कंध का क्रय-विक्रय, भण्डारण एवं परिवहन जिले में तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित कर दिया गया है। अनुज्ञापन अधिकारी (उर्वरक) एवं उपसंचालक किसान कल्याण व कृषि विकास डॉ. आनंद बड़ोनिया द्वारा यह कार्रवाई की गई है।      उप संचालक कृषि से प्राप्त जानकारी के मुताबिक विपणन सहकारी समिति से डीएपी का नमूना जाँच के लिये लिया गया था। निर्माता कंपनी इंडियन फॉर्मस फर्टिलाइजर कॉपरेटिव लिमिटेड कदला गांधीधाम गुजरात द्वारा निर्मित खाद का एक लॉट/बैच के नमूने प्रयोगशाला की जांच में अमानक पाया गया है। इस लॉट के खाद पर ग्वालियर जिले में क्रय, विक्रय, भण्डारण एवं परिवहन पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगाया गया है।